loading
Dharmen Kumar
24 September 2017 8:25:13 AM UTC in Shayari

इस फ़िज़ा से प्यार ना फरमाए !!!

इस फ़िज़ा से  प्यार  ना  फरमाए  !!! ये  फ़िज़ा  बस  दो  पल  की  मेहमान  है  !!!ये  रहेगी  तेरे  बाद  भी !!! ये  रहेगी तेरे  बाद  भी !!! पर  तू  ये  मत  भूल  कम्बख्त  इश्क़े  जूनून  में  !!!की  !!तू  बस  एक  इंसान  है  !!तू  बस  एक  इंसान  है  .!!
(guest)

0

Reply